Wednesday, December 21, 2011

दिल को झूठा एक बहाना आया है..........


12 comments:

  1. Bahut khoobsoorat....kya kehne Amitesh bhai...waah

    ReplyDelete
  2. बहुत बढ़िया

    ReplyDelete
  3. bahut khoob............. tusi cha ghaye

    ReplyDelete
  4. लफ्फाजी के लंबे-लंबे दौर के बाद
    आज कोई नमकीन तराना आया है

    प्यार भरा मौसम भी आता ही होगा
    जब दिलबर से ये नजराना आया है

    ReplyDelete
  5. तीसरे शेर में तक़ाबुले-रदीफ़ है.बाकी ग़ज़ल अच्छी है

    ReplyDelete
  6. बहुत खुबसूरत

    ReplyDelete